All Study Material

Constitution of India Book in Hindi PDF

Constitution of India Book -sarkaripdf.com
Written by admin

[Latest] Constitution of India Book in Hindi PDF:- आज हमारी टीम उन सभी विद्यार्थियों के लिए बहुत ही important pdf आपके साथ share कर रही   है जो SSC, UPSC, Bank, NDA, IAS, PCS, Railway, Police, vdo ग्राम विकास अधिकारी या किसी भी competitive exam का form भरे है या उसकी तैयारी कर रहे है क्योकि इसमे लगभग सभी one day exam में Constitution of India सामान्य रूप से पूछा जाता है इस को ध्यान में रखते हुए आज हमारी टीम द्वारा Indian Constitution in Hindi को PDF में share किये जा रहे है  जो की आगामी परीक्षा में पूछे जा सकते है तो students बिना देर किये तुर्रंत ही [NEW*2018] Constitution of India Book in Hindi PDF को download करे |

Indian Constitution in Hindi pdf

हम प्रतिदिन आपकी तैयारी को और बेहतर बनाने के लिए Important Notes लेकर आते हैं। ठीक उसी तरह आज भी हम आपके लिए बहुत ही महत्वपूर्ण Notes लेकर आए हैं। जिसका नाम Constitution of India Book in Hindi PDF है और इसको हिंदी में सम्पूर्ण भारत का संविधान कहा जाता है। भारत के संविधान से जुड़े बहुत से प्र्श्न सभी प्रतियोगी परीक्षाओं में पूछे जाते हैं इसलिए आप इन नोट्स को ज़रूर पढ़े। PDF को Download करने के लिए नीचे दिए गए Download Button पर Click करें।

भारतीय सामविधान से जुड़े प्रश्न लगभग हर One Day Exams प्रतियोगी परीक्षा जैसे IBPS, PO, SSC, Railway, Clerck आदि में पूछे जाते हैं आज के ये नोट्स हम बहुत सारे छात्रों की डिमांड पर लेकर आए हैं क्यूँकि हमारे प्रतिदिन के छात्रों ने Indian Constitution के Notes की माँग की थी यदि आप भी हमारे Daily Visitor हैं और किसी भी प्रकार के Notes या PDF चाहते हैं तो आप Comment में माँग सकते हैं
भारत को संविधान देने वाले महान नेता डॉ. बाबासाहेब अम्बेडकर का जन्म 14 अप्रैल 1891 को मध्य प्रदेश के एक छोटे से गांव में हुआ था। उन्होंने अपना सारा जीवन देश में समानता लेने के लिये अर्पण किया। आज उनकी जयंती के शुभावसर पर हम यहाँ भारत का संविधान हिंदी में / Bhartiya Samvidhan को कैसे और कहा पढ़ सकते है?

Constitution of India Book in Hindi Content

  • भारतीय संविधान Indian Constitution
  • सम्पूर्ण अनुच्छेद
  • 8वीं अनुसूची की भाषाए
  • भारतीय संविधान की मॉग
  • कैबिनेट मिशन (1946)
  • प्रारुप समिति के सदस्य
  • संविधान का निर्माण
  • संविधान सभा की समिति
  • भारतीय संविधान की विशेषताए
  • भारतीय संविधान के स्रोत
  • संविधान की प्रस्तावना
  • संघ और उसका राज्य क्षेत्र
  • राज्य पूनर्गठन आयोग
  • संविधान संशोधन द्वारा राज्यो का गठन
  • नागरिकता समाप्त होने की 3 विधिया
  • मूल अधिकार
  • मौलिक अधिकारो का वर्गीकरण
  • राज्य के निति के निदेशक तत्व
  • राष्ट्रपति की पूरी जानकारी
  • प्रधानमंत्री की पूरी जानकारी
  • राज्यपाल की पूरी जानकारी
  • Important Question In POLITICS
  • राष्ट्रीय प्रतीक चिन्ह
  • भारतीय राज्यव्यव्स्था से महत्वपूर्ण प्रश्न
  • संविधान संशोधन
  • जम्मू काश्मीर संविधान की पूरी जानकारी
  • विधान परिषद्
  • राज्य परिषद्
  • विधानसभा की पूरी जानकारी
  • आदि बहुत सी संविधान और राज्य व्यस्था से सम्बन्धित महत्वपूर्ण प्रश्नो का संकलन एक PDF मे उपलब्ध।

Indian Constitution Questi0n Answer In Hindi

संविधान की मूल प्रति किसने हाथ से लिखी थी?
भारतीय संविधान की मूल प्रति प्रेम बिहारी नारायण रायजादा ने हाथ से लिखी थी।

संविधान की मूल प्रति कहां रखी है? 
भारतीय संविधान की हिंदी व अंग्रेजी की मूल प्रतियां भारतीय संसद की लाइब्रेरी में विशेष हीलियम भरे केस में रखी हुई हैं।

संविधान में कितने अनुच्‍छेद हैं?
भारतीय संविधान में 395 अनुच्‍छेद, 22 भाग और 12 अनुसूचियां हैं। भारतीय संविधान किसी संप्रभुता संपन्‍न देश का सबसे लंबा लिखित संविधान है।

संविधान को तैयार करने कितना समय लगा?
भारतीय संविधान को पूर्ण रूप से तैयार करने में  2 वर्ष, 11 माह, 18 दिन का समय लगा था।

संविधान सभा का अध्‍यक्ष कि‍से चुना गया था? 
भारतीय संविधान को तैयार करने के लिए संविधान सभा का निर्माण हुआ था। इसके अध्‍यक्ष डॉ राजेंद्र प्रसाद चुने गए थे।

Constitution of India

संविधान सभा की पहली बैठक कब हुई थी? 

संविधान सभा की प्रथम बैठक 9 दिसंबर 1946 दिन सोमवार को हुई थी।

संविधान पर कितने सदस्‍यों ने हस्‍ताक्षर किए थे?
भारतीय संविधान पर 24 जनवरी 1950 को संविधान सभा के 284 सदस्यों ने हस्‍ताक्षर किए थे। इनमें 15 महिलाएं थीं।

देश में संविधान कि‍स दिन लागू हुआ था? 

पूरे भारत में 26 जनवरी 1950 को संविधान लागू हुआ था।

भारतीय संविधान की प्रस्‍तावना किस देश के संविधान से प्रेरित है?
भारतीय संविधान की प्रस्तावना अमरीकी संविधान से प्रेरित है। दोनों देशों के संविधान में प्रस्तावना वी द पीपुल से शुरू होती है।

संविधान की प्रस्‍तावना में स्‍वतंत्रता, समानता व भ्रातृत्‍व के आदर्श कहां से लिए गए हैं?  
भारतीय संविधान की प्रस्‍तावना में स्‍वतंत्रता, समानता व भ्रातृत्‍व के आदर्श फ्रांसीसी क्रांति से लिए गए हैं

भारतीय संविधान के महत्वपूर्ण संबिधान संशोधन

तो हम आपको महत्वपूर्ण संविधान संशोधनो के बारे में बता रहे है इनमे से भारतीय संविधान प्रश्न उत्तर PDF को complete कर सकते हो. क्यूंकि हर प्रतियोगी परीक्षा में इसमें से सवाल पूछे जाते हैं-

  • 1st संविधान संशोधन (1951) – इसके द्वारा भारतीय संविधान मे 9वी अनुसूची को जोडा गया है.
  • 7वाॅ संविधान संशोधन (1956) – इसके द्वारा राज्यों का पुनर्गठन करके 14 राज्य और 6 केंद्र शासित प्रदेशों को पुनर्गठित किया गया है.
  • 10वाॅ संविधान संशोधन (1961) – इसके द्वारा पुर्तगालियों की अधीनता से मुक्त हुए दादरा और नागर हवेली को भारतीय संघ में शामिल किया गया.
  • 12वाँ संविधान संशोधन (1962) – इसके द्वारा गोवा, दमण और दीव का भारतीय संघ में विलय किया गया.
  • 14वाॅ संविधान संशोधन (1962) – इसके द्वारा पाण्डेचेरी को केंद्र शासित प्रदेशके रूप में भारत में विलय किया गया.
  • 18वाॅ संविधान संशोधन (1966) – इसके द्वारा पंजाब राज्य का पुर्नगठन करके पंजाब, हरियाणा राज्य और चण्डीगढ को केन्द्रशासित प्रदेश बनाया गया.
  • 21वाॅ संविधान संशोधन (1967) – इसके द्वारा 8 वी अनुसूची में सिन्धी भाषा को शामिल किया गया.
  • 24वाँ संविधान संशोधन (1971) – इसके द्वारा संसद को मौलिक अधिकारों सहित संविधान के किसी भी भाग में संशोधन करने का अधिकार दिया गया है.
  • 45वाॅ संविधान संशोधन (1974) – इसके द्वारा सिक्किम को भारतीय सघं में सह राज्य का दर्जा दिया गया.
  • 36वाॅ संविधान संशोधन (1975) – इसके द्वारा सिक्किम को भारतीय सघं में 22 वे राज्य के रूप में सम्मिलित किया गया.

Constitution of India

  • 42वाॅ संविधान संशोधन (1976) – यह संविधान संशोधन प्रधानमंत्री इन्दिरा गाॅधी के समय स्वर्ण सिंह आयोग की सिफारिश के आधार पर किया गया था. यह अभी तक का सबसे बङा संविधान संशोधन है। इस संविधान संशोधन को लघु संविधान की संज्ञा दी जाती है. इस संविधान संशोधन में 59 प्रावधान थे.
  • 1.संविधान की प्रस्तावना में पंथ निरपेक्ष समाजवादी और अखण्डता शब्दों को जोडा गया.
  • 2. मौलिक कर्तव्यों को संविधान में शामिल किया गया.
  • 3.शिक्षा, वन और वन्यजीव, राज्यसूची के विषयों को समवर्ती सूची में शामिल किया गया.
  • 4.लोक सभा और विधान सभा के कार्यकाल को बढाकर 5 से 6 वर्ष कर दिया गया.
  • 5.राष्ट्रपति को मंत्रीपरिषद की सलाह के अनुसार कार्य करने के लिए बाध्य किया गया.
  • 6.ससंद द्वारा किये गये संविधान संशोधन को न्यायालय में चुनौती देने से वर्जित कर दिया गया है.
  • 44वाँ संविधान संसोधन (1978) –
  • (1) सम्पत्ति के अधिकार को मौलिक अधिकारों से हटाकर कानूनी अधिकार बना दिया है.
  • (2) लोक सभा और विधान सभा का कार्यकाल पुनः घटाकर 5 वर्ष कर दिया गया.
  • (3) राष्ट्रीय आपात की घोषणा आंतरिक अशान्ति के आधार पर नहीं बल्कि सशस्त्र विद्रोह के कारण की जा सकती है.
  • (4) राष्ट्रपति को यह अधिकार दिया गया कि वह मंत्री मण्डल की सलाह को एक बार पुर्नविचार के लिए वापस कर सकता है. लेकिन दूसरी बार वह सलाह मानने के लिए बाध्य होगा.
  • 48वाॅ संविधान संशोधन (1984) -संविधान के अनुच्छेद 356 (5) में परिवतर्न करके यह व्यवस्था की गई कि पंजाब में राष्ट्रपति शासन की अवधि को दो वर्ष तक और बढाया जा सकता है.
  • 52वाँ संविधान संशोधन (1985) – इसके द्वारा संविधान में 10 वी अनुसूची को जोडकर दल बदल को रोकने के लिए कानून बनाया गया.
  • 56वाँ संविधान संशोधन (1987) – इसके द्वारा गोवा को राज्य की श्रेणी में रखा गया.
  • 61वाँ संविधान संशोधन (1989) – संविधान के अनुच्छेद 326 में संशोधन करके लोक सभा और राज्य विधान सभाओं में मताधिकार की उम्र 21 वर्ष से घटाकर 18 वर्ष कर दी गई.
  • 71वाँ संविधान संशोधन (1992) – इसके द्वारा संविधान की 8 वी अनुसची में कोकणी , मणिपुरी, और नेपाली भाषाओं को जोडा गया.
  • 73वाँ संविधान संशोधन (1992) – इसके द्वारा संविधान में 11 वी अनुसची जोडकर सम्पूर्ण देश में पंचायती राज्य की स्थापना का प्रावधान किया गया.
  • 74वाँ संविधान संशोधन (1992) – इसके द्वारा संविधान में 12 वी अनुसूची जोडकर नगरीय स्थानीय शासन को संवैधानिक संरक्षण प्रदान किया गया.
  • 84वाँ संविधान संशोधन (2001) – इसके द्वारा 1991 की जनगणना के आधार पर लोक सभा और विधान सभा क्षेत्रों के परिसीमन की अनुमति प्रदान की गई.
  • 86वाँ संविधान संशोधन (2003) – इसके द्वारा प्राथमिक शिक्षा को मौलिक अधिकार की श्रेणी में लाया गया.
  • 91वाँ संविधान संशोधन (2003) –
  • (1) इसके द्वारा केन्द्र और राज्यो के मंत्री परिषदों के आकार को सीमित करने तथा दल बदल को प्रतिबन्धित करने का प्रावधान है.

Constitution of India

  • (2) इसके अनुसार मंत्री परिषद में सदस्यों की संख्या लोक सभा या उस राज्य की विधान सभा की कुल सदस्य संख्या से 15% से अधिक नहीं हो सकती है.
  • (3) साथ ही छोटे राज्यों के मंत्री परिषद के सदस्यों की संख्या अधिकतम 12 निश्चित की गई है.
  • 92वाँ संविधान संशोधन (2003) – इसके द्वारा संविधान की 8 वी अनुसूची में बोडो, डोगंरी, मैथिली और संथाली भाषाओं को शामिल किया गया है.
  • 103वाँ संविधान संशोधन  – जैन समुदाय को अल्पसंख्यक का दर्जा.
  • 108वाॅ संविधान संशोधन – महिलाओं के लिए लोकसभा व विधान सभा में 33% आरक्षण.
  • 109वाॅ संविधान संशोधन – पंचायती राज्य में महिला आरक्षण 33% से 50%.
  • 110वाॅ संविधान संशोधन – स्थानीय निकाय में महिला आरक्षण 33% से 50%.
  • 114वाँ संविधान संशोधन –  उच्च न्यायालय के न्यायाधीशों की आयु 62 बर्ष से 65 बर्ष.
  • 115वाॅं संविधान संशोधन – GST (वस्तु एवं सेवा कर)
  • 117वाॅं संविधान संशोधन – SC व ST को सरकारी सेवाओं में पदोन्नति आरक्षण

Bhartiya Samvidhan महत्वपूर्ण संबिधान संशोधन

तो हम आपको महत्वपूर्ण संविधान संशोधनो के बारे में बता रहे है इनमे से भारतीय संविधान प्रश्न उत्तर PDF को complete कर सकते हो. क्यूंकि हर प्रतियोगी परीक्षा में इसमें से सवाल पूछे जाते हैं-

  • 1st संविधान संशोधन (1951) – इसके द्वारा भारतीय संविधान मे 9वी अनुसूची को जोडा गया है.
  • 7वाॅ संविधान संशोधन (1956) – इसके द्वारा राज्यों का पुनर्गठन करके 14 राज्य और 6 केंद्र शासित प्रदेशों को पुनर्गठित किया गया है.
  • 10वाॅ संविधान संशोधन (1961) – इसके द्वारा पुर्तगालियों की अधीनता से मुक्त हुए दादरा और नागर हवेली को भारतीय संघ में शामिल किया गया.
  • 12वाँ संविधान संशोधन (1962) – इसके द्वारा गोवा, दमण और दीव का भारतीय संघ में विलय किया गया.
  • 14वाॅ संविधान संशोधन (1962) – इसके द्वारा पाण्डेचेरी को केंद्र शासित प्रदेशके रूप में भारत में विलय किया गया.

Constitution of India

  • 18वाॅ संविधान संशोधन (1966) – इसके द्वारा पंजाब राज्य का पुर्नगठन करके पंजाब, हरियाणा राज्य और चण्डीगढ को केन्द्रशासित प्रदेश बनाया गया.
  • 21वाॅ संविधान संशोधन (1967) – इसके द्वारा 8 वी अनुसूची में सिन्धी भाषा को शामिल किया गया.
  • 24वाँ संविधान संशोधन (1971) – इसके द्वारा संसद को मौलिक अधिकारों सहित संविधान के किसी भी भाग में संशोधन करने का अधिकार दिया गया है.
  • 45वाॅ संविधान संशोधन (1974) – इसके द्वारा सिक्किम को भारतीय सघं में सह राज्य का दर्जा दिया गया.
  • 36वाॅ संविधान संशोधन (1975) – इसके द्वारा सिक्किम को भारतीय सघं में 22 वे राज्य के रूप में सम्मिलित किया गया.
  • 42वाॅ संविधान संशोधन (1976) – यह संविधान संशोधन प्रधानमंत्री इन्दिरा गाॅधी के समय स्वर्ण सिंह आयोग की सिफारिश के आधार पर किया गया था. यह अभी तक का सबसे बङा संविधान संशोधन है। इस संविधान संशोधन को लघु संविधान की संज्ञा दी जाती है. इस संविधान संशोधन में 59 प्रावधान थे.

    1.संविधान की प्रस्तावना में पंथ निरपेक्ष समाजवादी और अखण्डता शब्दों को जोडा गया.
    2. मौलिक कर्तव्यों को संविधान में शामिल किया गया.
    3.शिक्षा, वन और वन्यजीव, राज्यसूची के विषयों को समवर्ती सूची में शामिल किया गया.
    4.लोक सभा और विधान सभा के कार्यकाल को बढाकर 5 से 6 वर्ष कर दिया गया.
    5.राष्ट्रपति को मंत्रीपरिषद की सलाह के अनुसार कार्य करने के लिए बाध्य किया गया.
    6.ससंद द्वारा किये गये संविधान संशोधन को न्यायालय में चुनौती देने से वर्जित कर दिया गया है.


  • 44वाँ संविधान संसोधन (1978) –

    (1) सम्पत्ति के अधिकार को मौलिक अधिकारों से हटाकर कानूनी अधिकार बना दिया है.
    (2) लोक सभा और विधान सभा का कार्यकाल पुनः घटाकर 5 वर्ष कर दिया गया.
    (3) राष्ट्रीय आपात की घोषणा आंतरिक अशान्ति के आधार पर नहीं बल्कि सशस्त्र विद्रोह के कारण की जा सकती है.
    (4) राष्ट्रपति को यह अधिकार दिया गया कि वह मंत्री मण्डल की सलाह को एक बार पुर्नविचार के लिए वापस कर सकता है. लेकिन दूसरी बार वह सलाह मानने के लिए बाध्य होगा.


  • 48वाॅ संविधान संशोधन (1984) –संविधान के अनुच्छेद 356 (5) में परिवतर्न करके यह व्यवस्था की गई कि पंजाब में राष्ट्रपति शासन की अवधि को दो वर्ष तक और बढाया जा सकता है.
  • 52वाँ संविधान संशोधन (1985) – इसके द्वारा संविधान में 10 वी अनुसूची को जोडकर दल बदल को रोकने के लिए कानून बनाया गया.
  • 56वाँ संविधान संशोधन (1987) – इसके द्वारा गोवा को राज्य की श्रेणी में रखा गया.
  • 61वाँ संविधान संशोधन (1989) – संविधान के अनुच्छेद 326 में संशोधन करके लोक सभा और राज्य विधान सभाओं में मताधिकार की उम्र 21 वर्ष से घटाकर 18 वर्ष कर दी गई.
  • 71वाँ संविधान संशोधन (1992) – इसके द्वारा संविधान की 8 वी अनुसची में कोकणी , मणिपुरी, और नेपाली भाषाओं को जोडा गया.
  • 73वाँ संविधान संशोधन (1992) – इसके द्वारा संविधान में 11 वी अनुसची जोडकर सम्पूर्ण देश में पंचायती राज्य की स्थापना का प्रावधान किया गया.
  • 74वाँ संविधान संशोधन (1992) – इसके द्वारा संविधान में 12 वी अनुसूची जोडकर नगरीय स्थानीय शासन को संवैधानिक संरक्षण प्रदान किया गया.
  • 84वाँ संविधान संशोधन (2001) – इसके द्वारा 1991 की जनगणना के आधार पर लोक सभा और विधान सभा क्षेत्रों के परिसीमन की अनुमति प्रदान की गई.
  • 86वाँ संविधान संशोधन (2003) – इसके द्वारा प्राथमिक शिक्षा को मौलिक अधिकार की श्रेणी में लाया गया.
  • 91वाँ संविधान संशोधन (2003) –

    (1) इसके द्वारा केन्द्र और राज्यो के मंत्री परिषदों के आकार को सीमित करने तथा दल बदल को प्रतिबन्धित करने का प्रावधान है.
    (2) इसके अनुसार मंत्री परिषद में सदस्यों की संख्या लोक सभा या उस राज्य की विधान सभा की कुल सदस्य संख्या से 15% से अधिक नहीं हो सकती है.
    (3) साथ ही छोटे राज्यों के मंत्री परिषद के सदस्यों की संख्या अधिकतम 12 निश्चित की गई है.


  • 92वाँ संविधान संशोधन (2003) – इसके द्वारा संविधान की 8 वी अनुसूची में बोडो, डोगंरी, मैथिली और संथाली भाषाओं को शामिल किया गया है.
  • 103वाँ संविधान संशोधन – जैन समुदाय को अल्पसंख्यक का दर्जा.
  • 108वाॅ संविधान संशोधन – महिलाओं के लिए लोकसभा व विधान सभा में 33% आरक्षण.
  • 109वाॅ संविधान संशोधन – पंचायती राज्य में महिला आरक्षण 33% से 50%.
  • 110वाॅ संविधान संशोधन – स्थानीय निकाय में महिला आरक्षण 33% से 50%.
  • 114वाँ संविधान संशोधन – उच्च न्यायालय के न्यायाधीशों की आयु 62 बर्ष से 65 बर्ष.
  • 115वाॅं संविधान संशोधन – GST (वस्तु एवं सेवा कर)
  • 117वाॅं संविधान संशोधन – SC व ST को सरकारी सेवाओं में पदोन्नति आरक्षण

Indian Constitution Handwriting Notes LIVE WATCH

आप सभी students के सहूलियत को देखते हुए हमारी टीम ने decide किया है की अब से आप सबको बिना pdf download किये देखने का भी प्रबंध किया जाये, तो नीचे बने window में आपको हिंदी में Constitution of India Book in Hindi PDF को बिना download किये देखने को मिलेगा और उसके नीचे download pdf बटन भी दिया गया है जिसकी सहायता से आप बड़ी ही आसानी से हिंदी में Constitution of India Book in Hindi PDF  को download भी कर सकते है|

Indian Constitution Handwriting Notes in Hindi [1]बिना download किये देखे

Major Articles of Indian Constitution

नीचे कुछ प्रमुख bharat ka samvidhan in hindi में दिए जा रहे है जो की संभवतः exam में पूछा जाता है तो students इसे ध्यान पूर्वक पढ़े:-

1. अनुच्छेद 1
►यह घयषणा करता हैवक भारत ‗राज्ययंका संघ‘ है।
2. अनुच्छेद 3
►संसद विवध द्वारा नए राज्य बना सकती हैतथा पहले
मौजूद राज्ययंके क्षेत्रय,ं समीओ,ं नामयंमेंपररितान कर
सकती है।
3. अनुच्छेद 5-11
►नागररकता का प्रिाधान
4. अनुच्छेद 12-35
►मौवलक अवधकार का प्रािधान
5. अनुच्छेद 36-51
►राज्य के नीवत-वनदेशक तत्
6. अनुच्छेद 51(क)
►मौवलक कताव
7. अनुच्छेद 52-73
►भारत के राष्टरपवत एिं उपराष्टरपवत का संगठन और
कायाक्षेत्रावधकार
8. अनुच्छेद 74-75
►मंवत्रपररषद् की व्यिस्था और उसके कताव्य
9. अनुच्छेद 79
►संसद का गठन
10. अनुच्छेद 80
►राज्यसभा का गठन
11.अनुच्छेद 81
►लयकसभा का गठन
12. अनुच्छेद 123
►राष्टरपवत कय अध्यादेश जारी करनेका अवधकार
13. अनुच्छेद 124
►सिोच्च न्यायालय की स्थापना
14. अनुच्छेद 153-162
►राज्यपाल की वनयुक्ति तथा अवधकार
15. अनुच्छेद 163-164

Bharat Ka Samvidhan in Hindi

►राज्य के मंवत्रपररषद् सहमुख्यमंत्री
16. अनुच्छेद 168-195
►राज्य विधावयका
17. अनुच्छेद 216
►उच्च न्यायालय का गठन
18. अनुच्छेद 239(क)
►वदल्री के संबंध मेंविशेष उपबंध
19. अनुच्छेद 243
►पंचायती राज, नगरपावलका का गठन और इसके अन्य
उपबंध
20. अनुच्छेद 248
►अविवशष्ट विधी संबंधी शक्तियां
21. अनुच्छेद 266
►भारत और राज्ययंकी संवचत वनवधयां
22. अनुच्छेद 267
►आकक्तस्मक वनवधयां
23. अनुच्छेद 280
►वित्त आययग का गठन
24. अनुच्छेद 281
►वित्त आययग के गठन की वसफाररशें
25. अनुच्छेद 312
►अक्तखल भारतीय सेिाएं
26. अनुच्छेद 315
► संघ एिं राज्य लयकसेिा आययग का गठन
27. अनुच्छेद 320
► संघ लयक सेिा आययग के काया
28. अनुच्छेद 324
►भारत का वनिााचन आययग
29. अनुच्छेद 330
► लयकसभा मेंअनुसूवचत जावत-जनजावत के वलए आरक्षण
30. अनुच्छेद 331
►लोकसभा में आंग्ल-भारतीय समुदाय का प्रवतवनवधत्
31. अनुच्छेद 343-351
►संघ की भाषा, प्रादेवशक भाषाएं, उच्चतम एिं उच्च
न्यायालययंकी भाषा के संबंध में।
32. अनुच्छेद 352-360
►आपातकालीन उपबंध
33. अनुच्छेद 368
►संविधान मेंसंशयधन करनेकी संसद की शक्ति और
प्रवकया
34. अनुच्छेद 370
►जिू-कश्मीर राज्य के संबंध मेंअस्थायी उपबंध

Indian Constitution Question and Answer

भारतीय संविधान मेंकुल वकतनेअनुच्छेद हैं
— 444
● भारतीय संविधान के वकस अनुच्छेद मेंयह वलखा हैवक
भारत राज्ययंका एक संघ हयगा
— अनुच्छेद-1
● वकस अनुच्छेद मेंनागररकयंकय मौवलक अवधकार प्रदान
वकए गए हैं
— अनुच्छेद 12-35
● वकस अनुच्छेद मेंनागररकता संबंधी प्रािधान है
— अनुच्छेद 5-11
● नौकररययंतथा शैक्षवणक संस्थाओंमेंसमाज के कमजयर
िगों के वलए आरक्षण उपलब्ध करानेके वलए केंद्र सरकार
कय कौन-सा अनुच्छेद अवधकार प्रदान करता है
— अनुच्छेद-16
● संविधान के वकस अनुच्छेद मेंराज्य मेंनीवत-वनदेशक
तत्यंका उल्रेख है
— अनुच्छेद 36-51
● भारतीय संविधान के वकस अनुच्छेद मेंकल्याणकारी
राज्य की अिधारणा िवणात है— अनुच्छेद-39
● संविधान के वकस अनुच्छेद के अंतगात भारत मेंराष्टरपवत
पर महावभययग चलाया जा सकता है
— अनुच्छेद-61
● वकस अनुच्छेद मेंमंवत्रगण सामूवहक रुप सेलयकसभा के
प्रवत उिरदायी हयतेहैं
— अनुच्छेद-75
● महान्यायिादी की वनयुक्ति वकस अनुच्छेद के अंतगात की
जाती है
— अनुच्छेद-76
● संविधान के वकस अनुच्छेद के अंतगात राष्टरपवत
लयकसभा भंग कर सकता है
— अनुच्छेद-85
● वकस अनुच्छेद मेंसंसद के संयुि अवधिेशन का
प्रािधान है
— अनुच्छेद-108
● संविधान के वकस अनुच्छेद मेंधन विधेयक की पररभाषा
दी गई है
— अनुच्छेद-110

Indian Samvidhan Constitution of India

● संविधान के वकस अनुच्छेद के अंतगात राष्टरपवत अध्यादेश
जारी करता है
— अनुच्छेद-123
● संविधान के वकस अनुच्छेद मेंसिोच्च न्यायालय के
न्यायधीश पर महावभययग चलाया जा सकता है
— अनुच्छेद-124
● राष्टरपवत वकस अनुच्छेद के अंतगात सिोच्च न्यायालय से
परामशामांग सकता है
— अनुच्छेद-233
● वकस अनुच्छेद के अंतगात केंद्र के पास अिवशष्ट
शक्तियााँहै
— अनुच्छेद-248
● वकस अनुच्छेद मेंअंतरााष्टरीय समझौतेलागूकरनेके वलए
शक्ति प्रदान की गई है
— अनुच्छेद-253
● वकस अनुच्छेद के तहत राष्टरपवत विि आययग का गठन
करता है
— अनुच्छेद-280
● संपवि का अवधकार वकस अनुच्छेद मेंहै
— अनुच्छेद-300 (क)

● संविधान के वकस अनुच्छेद मेंसंघ और राज्ययंके वलए
लयकसेिा आययग का प्रािधान है
— अनुच्छेद-315
● वकस अनुच्छेद के अंतगात वहन्दी भाषा कय राजकीय
भाषा घयवषत वकया गया है
— अनुच्छेद-343 (I)
● संविधान के वकस अनुच्छेद के तहत अनुसूवचत
जनजावतययंके वलए एक राष्टरीय आययग के गठन का
प्रािधान है
— अनुच्छेद-338 (A)
● संसद कय संविधान संशयधन का अवधकार वकस अनुच्छेद
मेंहै
— अनुच्छेद-368
● संविधान के वकस अनुच्छेद के अंतगात संविधान की
प्रवहृया का उल्रेख है
— अनुच्छेद-356
● संविधान के वकस अनुच्छेद में‗मंवत्रमंडल‘ शब्द का
प्रययग संविधान मेंएक बार हुआ है
— अनुच्छेद-352
● जिू-कश्मीर कय वकस अनुच्छेद के अंतगात विशेष दजाा
प्राप्त है
— अनुच्छेद-370
● अनुच्छेद-356 का संबंध वकससेहै
— राष्टरपवत शासन से
● भारतीय संविधान मेंसमानता का अवधकार पााँच
अनुच्छेदयंद्वारा प्रदान वकया गया है, िेकौन-सेहैं
— अनुच्छेद-14-18
● संविधान के वकस अनुच्छेद मेंमूल कताव्ययंका उल्रेख है
— अनुच्छेद-51 (क)
● ‗भारत के नागररक का कताव्य हयगा प्राकृवतक पयाािरण
का संरक्षण एिं सुधार‘ यह कथन वकस अनुच्छेद मेंहै
— अनुच्छेद-(A)
● संविधान के वकस अनुच्छेद के अंतगात राज्य सरकार कय
ग्राम पंचायत के संगठन का वनदेश वदया गया है
— अनुच्छेद-40
● ितामान मेंसंविधान मेंवकतनी अनुसूवचयााँहैं
— 12
● संविधान की वद्वतीय अनुसूची का संबंध वकस सेहै
— महत्पूणापद अवधकाररययंके िेतन-भियंसे
● कौन-सी अनुसूची में22 भाषाओंकय मान्यता दी गई है
— आठिींअनुसूची
● दल-बदल के आधार पर वनिाावचत सदस्ययंकी अययग्यता
संबंधी वििरण वकस अनुसूची मेंहै
— 10िींअनुसूची
● संविधान की छठी अनुसूची वकस राज्य मेंलागूनहींहयता
है
— मवणपुर
● वकस राज्य के आरक्षण विधेयक कय 9िींअनुसूची में
सक्तिवलवत वकया गया है
— तवमलनाडु
● भारतीय संविधान की कौन-सी अनुसूची राज्य मेंनामयं
की सूची तथा राज्य क्षेत्रयंका ब्यौरा देती है
— पहली अनुसूची
● भारतीय संविधान में9िींअनुसूची पररिवतात हुई
— प्रथम संशयधन द्वारा
● वकस अनुच्छेद के अंतगात उपराष्टरपवत पद की व्यिस्था
है
— अनुच्छेद-63
● वित्तीय आपात की घयषणा वकस अनुच्छेद के अंतगात
हयती है
— अनुच्छेद-360

● राष्टरीय वपछडा आययग का गठन वकस अनुच्छेद के
अंतगात वकया जाता है
— अनुच्छेद-340
● वकस अनुसूची मेंकेंद्र ि राज्ययंके बीच शक्तिययंके
बंटिारेका िणान है
— सातिींअनुसूची में
● समिती सूची वकस राज्य मेंसंबंवधत नहींहै
— जिू-कश्मीर से

Indian Polity in Hindi Constitution of India

● संविधान लागूहयनेके समय समिती सूची मेंवकतने
विषय थे
— 47 विषय
● ितामान मेंराज्य सूची मेंवकतनेविषय हैं
— 66 विषय
● ितामान मेंसंघ सूची मेंवकतनेविषय हैं
— 97 विषय
● वकस अनुसूची मेंअसम, मेघालय, वत्रपुरा ि वमजयरम
राज्ययंके जनजावत क्षेत्रयंके प्रशासन के बारेमेंप्रािधान है
— छठींअनुसूची में
भारतीय संविधान के स्रयत : सामान्य ज्ञान प्रश्यिरी
● भारतीय संविधान संसदीय प्रणाली वकस देश के संविधान
सेली गई है
— इंग्लैंड
● भारतीय संविधान का कौन-सा लक्षण आयररश संविधान
सेअनुप्रेररत है
— नीवत-वनदेशक तत्
● भारतीय संविधान का सबसेबडा एकाकी स्त्रयत कौन-सा
है
— गिनामेंट ऑफ इंवडया एक्ट, 1935
● भारतीय संविधान की संघीय व्यिस्था वकस देश की
संघीय व्यिस्था सेसमानता रखती है
— कनाडा
● संविधान मेंसमिती सूची की प्रेरणा कहााँसेली गई है
— ऑस्ट्रेवलया
● भारतीय संविधान मेंमौवलक कताव्ययंकय वकस देश से
वलया गया है
— रुस के संविधान से
● राज्य मेंकलेक्टर का पद औपवनिेवशक शासन नेवकस
देश सेउधार वलया था
— इंग्लैंड से
● ‗कानून के समक्ष समान संरक्षण‘ िाक्य कहााँसेवलया
गया है
— संयुि राज्य अमेररका से
● सिोच्च न्यायालय की व्यिस्था भारतीय संविधान नेवकस
देश के संविधान सेली है
— संयुि राज्य अमेररका
● भारतीय संविधान की संशयधन प्रवहृया वकस देश के
संविधान सेप्रभावित है
— दवक्षण अफ्रीका
● ‗विवध के समक्ष समता‘ कहााँसेली गई है
— इंग्लैंड से
● िह संिैधावनक दस्तािेज कौन-सा हैवजसका भारतीय
संविधान तैयार करनेमेंगहरा प्रभाि पडा
— भारत सरकार अवधवनमय 1935
● भारत के राष्टरपवत की आपातकालीन शक्तियााँवकस देश
सेली गई हैं
— जमानी के िीमार संविधान से
● भारत के सविधान मेंमूल अवधकार वकस देश के
संविधान सेप्रेररत है
— संयुि के िीमर संविधान से
● संविधान में‗कानून द्वारा स्थावपत‘ शब्दािली वकस देश
के संविधान सेली गई है
— संयुि राज्य अमेरका

Constitution of India Book in Hindi PDF LIVE WATCH

आप सभी students के सहूलियत को देखते हुए हमारी टीम ने decide किया है की अब से आप सबको बिना pdf download किये देखने का भी प्रबंध किया जाये, तो नीचे बने window में आपको हिंदी में Constitution of India Book in Hindi PDF को बिना download किये देखने को मिलेगा और उसके नीचे download pdf बटन भी दिया गया है जिसकी सहायता से आप बड़ी ही आसानी से हिंदी में Constitution of India Book in Hindi PDF  को download भी कर सकते है|

Constitution in Hindi [2] “बिना download किये देखे

INDIAN POLITY Indian Constitution PDF Download

इस pdf फाइल में आपको निम्नलिखित जानकारी मिलेगी. निचे दिए हुए सभी पॉइंट्स इस Constitution of India pdf में उपलब्ध है. तो इस फाइल को आप अभी डाउनलोड कर सकते हो और अपने मोबाइल या कंप्यूटर में Constitution of India Save कर सकते हो.

  • भारतीय संविधान Indian Constitution
  • सम्पूर्ण अनुच्छेद
  • 8वीं अनुसूची की भाषाए
  • भारतीय संविधान की मॉग
  • कैबिनेट मिशन (1946)
  • प्रारुप समिति के सदस्य
  • संविधान का निर्माण
  • संविधान सभा की समिति
  • भारतीय संविधान की विशेषताए
  • भारतीय संविधान के स्रोत
  • संविधान की प्रस्तावना
  • संघ और उसका राज्य क्षेत्र
  • राज्य पूनर्गठन आयोग
  • संविधान संशोधन द्वारा राज्यो का गठन
  • नागरिकता समाप्त होने की 3 विधिया
  • मूल अधिकार
  • मौलिक अधिकारो का वर्गीकरण
  • राज्य के निति के निदेशक तत्व
  • राष्ट्रपति की पूरी जानकारी
  • प्रधानमंत्री की पूरी जानकारी
  • राज्यपाल की पूरी जानकारी
  • Important Question In POLITICS
  • राष्ट्रीय प्रतीक चिन्ह
  • भारतीय राज्यव्यव्स्था से महत्वपूर्ण प्रश्न
  • संविधान संशोधन
  • जम्मू काश्मीर संविधान की पूरी जानकारी
  • विधान परिषद्
  • राज्य परिषद्
  • विधानसभा की पूरी जानकारी
  • आदि बहुत सी संविधान और राज्य व्यस्था से सम्बन्धित महत्वपूर्ण प्रश्नो का संकलन एक PDF मे उपलब्ध।

उपर्युक्त सभी के बारे में आप को विस्तार से पढ़ने को मिल जायेगा जो आपके लिए बहुत उपयोगी साबित होगा.

आप सभी को यह पोस्ट “[Latest*] Constitution of India Book in Hindi PDF “ कैसा लगा यदि आपको अच्छा लगा और आप इसी तरह के पर प्रश्न चाहते है | और किसी exam के पेपर | तो  आप हमें निचे दिए  COMMENT  में बता सकते है |

क्या आप student है | और प्रतियोगी परीछा की तैयारी कर रहे है | तो दोस्तों आप SARKARIPDF.COM आपको सभी प्रकार के पीडीऍफ़ स्टडी बुक | क्वेश्चन प्राप्त हो जायेंगे |

जरुर पढ़ें :- दोस्तों अगर आपको किसी भी प्रकार का सवाल है या ebook की आपको आवश्यकता है तो आप निचे comment कर सकते है. आपको किसी परीक्षा की जानकारी चाहिए या किसी भी प्रकार का हेल्प चाहिए तो आप comment कर सकते है. हमारा post अगर आपको पसंद आया हो तो अपने दोस्तों के साथ share करे और उनकी सहायता करे. आप हमसे Facebook group से  भी जुड़ सकते है Daily updates के लिए.

Constitution of India,Constitution of India,Constitution of India,Constitution of India,Constitution of India,Constitution of India,Constitution of India,Constitution of India,Constitution of 

About the author

admin

Leave a Comment