Railway Naukri Preparation Tips

Railway Naukri Preparation Tips and Books

भारतीय रेलवे (Indian Railway) दुनिया में सबसे बड़े रेल तंत्रों में से एक है. लगभग 161 वर्ष पहले शुरू हुए Indian Railway को सबसे ज्यादा (Recruitment) रोजगार देने वाले क्षेत्र में गिना जाना जाता है| बहुत कम लोग जानते हैं कि Railway में भारतीय क्रिकेट को नई ऊंचाइयां देने वाले कप्तान महेंद्र सिंह धोनी एक जमाने में खड़गपुर Railway Station पर टिकट कलेक्टर (Ticket Collector) के पद पर काम कर चुके हैं.

Railway Naukri Preparation Tips

Railway Naukri Preparation Tips

Contents

रेलवे में करियर बनाना है तो इसे पढ़ें

आइए बताते हैं कि Railway में पदों (Post) की क्या-क्या Catagory हैं और नौकरी (Job) पाने के लिए कौन सी exam देनी होती हैं. railway दसवीं (10th) से लेकर इंजीनियरिंग (Engeenring) -मेडिकल डिग्रीधारकों (Medical Degree) तक के लिए विभिन्न प्रकार के पद रेलवे (post railway) परिचालन से जुड़े विभिन्न विभागों में हैं. railway के अंतर्गत आने वाले सभी पद 4 Catagory (A, B , C, D) में बंटे हुए होते है.

Railway Group A Recruitment ‘Officer Grade (ऑफिसर ग्रेड)’ 

Group A और B ‘Officer Grade’ में गिने जाते हैं. उम्‍मीदवारों (candidate) की भर्ती सिविल सर्विस एग्‍जाम (Civil Service Exam) / इंजीनियरिंग सर्विस एग्‍जाम (Engeenring Service Exam)/कंबाइंड मेडिकल एग्‍जाम (Combind Medical Exam) के जरिए होती है. आम तौर पर यूपीएससी (UPSC) ये परीक्षाएं करवाती है. Group A (Level) लेवल के लिए मान्‍यता प्राप्‍त संस्‍थान से इंजीनियरिंग (Engeerning), एमएससी डिग्री (MSc Degree) या एमबीबीएस (MBBS) के लेवल की Degree होना जरूरी है.

Railway Group B Recruitment

Group B के लिए कोई स्‍पेशल एग्‍जाम (Special Exam) नहीं होता है. इस लेवल की भर्ती (recruitment) अमूमन Group C लेवल वालों को प्रमोट (pramote) करके की जाती है.

Railway Group C and D Recruitment

Group C और D के पद नॉन-गैजेटेड सबऑर्डिनेट (Non Gazetted subordinate Post) पोस्‍ट के अंतर्गत आते है. इनकी भर्ती 19 (Railway Recruitment Board)  रेलवे रिक्रूटमेंट बोर्ड्स की ओर से पूरे साल चलती रहती है. इनमें सहायक स्टेशन मास्टर (Assistant Station Master) , गार्ड्स (Guards), क्लर्क (Clerk), टिकट कलेक्टर (Ticket Collector), ट्रैफिक अप्रेंटिस (Traffic Apprentice), स्टेनोग्राफर (Stenographer), कैटरिंग मैंनेजर हेल्पर (Catering manager helper), खलासी (Sailor) , ट्रॉलीमैन (trolly-man), ट्रैकमैन (Track-man) आदि के पद आते हैं, जिनके लिए (recruitment) भर्ती का आधार (written) लिखित चयन परीक्षा होती है. इनमें objective type सवाल पूछे जाते हैं. इनमें अंग्रेजी (English), हिंदी (Hindi), जनरल नॉलेज (General Knowledge), मैथ (Math), रीजनिंग (Reasoning) से जुड़े सवाल होते हैं.

अधिकांश लोगों को यह जानकारी नहीं होगी कि Railway में बाकायदा सांस्कृतिक कोटा (culture reservation) के अंतर्गत विभिन्न प्रकार के कलाकारों को भी चयन (recruitment) प्रक्रिया और उनके अनुभवों (experiance) के आधार पर नियुक्त किया जाता है. इनकी आयु (age 18-33) सीमा 18 से 33 वर्ष हो सकती है और इनका कम से कम दसवीं (10th) पास होना जरूरी है. इनके चयन में मान्यता प्राप्त संस्थान से संगीत, नृत्य, नाटक आदि में प्रमाणपत्र (certificate) के अलावा लिखित चयन (written test) परीक्षा का भी सहारा लिया जाता है.

Railway System में मौजूदा लगभग 350 स्कूल कार्यरत (working) हैं जिनमें लगभग साढ़े पांच हजार अध्यापक हैं. इनकी भर्तियां टीजीटी (TGT), पीजीटी (PGT), क्रामंट टीचर , प्राइमरी टीचर (Primary Teacher), फिजिकल एजुकेशन इंस्ट्रक्टर (physical education instructor) या लाइब्रेरियन (Liberian) के रूप में लिखित परीक्षा (written exam) के आधार पर की जाती है.

रेलवे की ज्‍यादातर जॉब लंबे समय तक घर से बाहर रहकर करनी होती है. लिहाजा रेलवे में काम करने वालों को अपनी मानासिक और शारीरिक सेहत का बेहद ख्‍याल रखना पड़ता है. यह लंबे समय तक काम करने के लिए भी जरूरी है.

Railway Group D Exam Preparation Tips रेलवे ग्रुप डी की तैयारी कैसे करे

आज के समय में हर कोई पढ़लिखकर अच्छी जॉब पाना चाहता है ऐसे में Indian Railway Job के लिए Railway Recruitment Board एक महत्वपूर्ण संस्थान का कार्य करता है जितनी भी रेलवे भर्ती की परीक्षा आयोजित किये जाते है वे सभी RRB (Railway Recruitment Board) के अंतर्गत ही आते है ऐसे में यदि आप रेलवे में भर्ती के Group-D के एग्जाम और उससे जुडी महत्वपूर्ण जानकारी पाना चाहते है तो यह  Railway Exam Group D की तैयारी कैसे करे Railway Group D Vacancy Exam Preparation Tips आपके लिए काफी helpful हो सकता है

तो चलिए जानते है की कैसे रेलवे एग्जाम ग्रुप डी की तैयारी कर सकते है इसके लिए हमे किन किन बातो का ध्यान रखना जरुरी है

Railway Group D की तैयारी कैसे करे
रेलवे ग्रुप डी की भर्तिया वैसे तो सालभर चलती रहती है जिनमे कई सारे पोस्ट होते है जिनके लिए अलग परीक्षा के Syllabus और अलग अलग Education Qualification होते है तो चलिए पहले जानते है की Group D के लिए कौन कौन से पोस्ट होते है

Railway Group D Vacancy Details in Hindi
रेलवे ग्रुप के पोस्ट
वैसे इस ग्रुप से कई सारे पोस्ट होते है कुछ महत्वपूर्ण पोस्ट इस प्रकार है

  • 1 – Trackman
  • 2 – Gateman
  • 3- Pointsman
  • 4 – Helpers in Mechanical
  • 5 – Helpers in Engineering
  • 6 – Porters
  • 7 – Gangman
  • 8 – Fitter
  • 9 – Cabinman
  • 10 – Welder

रेलवे Group D के लिए शैक्षिक योग्यता Railway Group D Education Qualification Eligibility Details in Hindi

जब हम किसी भी जॉब के लिए फॉर्म अप्लाई करते है तो उसके शैक्षिक योग्यता यानी Education Qualification बहुत ही महत्वपूर्ण होता है तो ऐसे में रेलवे ग्रुप डी के लिए शैक्षिक योग्यता विभिन्न पोस्ट के अनुसार 10+12 +Graduation पास के साथ आईटीआई होना जरुरी है यह शैक्षिक योग्यता अलग अलग पोस्ट के लिए अलग निर्धारित होती है

आयु सीमा (Age Limit)
जब भी आप कोई भी सरकारी जॉब के लिए फॉर्म भरने जाते है तो इसके लिए आयु भी निर्धारित होती है यानी रेलवे ग्रुप डी के लिए जब आप फॉर्म भरते है कम से कम आपकी आयु 18 वर्ष पूर्ण होनी चाहिए और अलग अलग पोस्ट के अनुसार अधिकतम आयु सीमा 32 वर्ष निर्धारित होती है और यह आयु सीमा जाति प्रमाण पत्र के आधार पर कुछ वर्ष की छुट भी मिलती है जिसका डिटेल्स फॉर्म में दिया रहता है

Railway Group D Selection Process रेलवे ग्रुप डी जॉब की चयन प्रक्रिया

Railway Group D Job Selection Procedure Details in Hindi
रेलवे ग्रुप डी के जॉब की चयन प्रक्रिया इस प्रकार 4 चरणों में होती है जो इस प्रकार है

1 – लिखित परीक्षा (Written Exam)

किसी भी जॉब की परीक्षा के लिए लिखित परीक्षा यह सबसे महत्वपूर्ण भाग होता है किसी भी जॉब के लिए आप तभी सेलेक्ट हो सकते है यदि आप लिखित परीक्षा को मेरिट अंको के आधार पर सबसे नंबर लाते है तो आपको जॉब के Selection के लिए आगे के चरणों में भेजा जाता है

2 – मेडिकल टेस्ट ( Medical Test)

किसी भी जॉब के लिए हेल्थ यानी अच्छे स्वास्थ्य का होना भी जरुरी है ऐसे में इस ग्रुप के जॉब के लिए भी मेडिकल टेस्ट लिया जाता है जिसके लिए मेडिकल सर्टिफिकेट की जरूरत भी पड़ती है

3 – प्रमाणपत्र सत्यापन (Certificate Verification)

जब आप लिखित और मेडिकल में सेलेक्ट हो जाते है तो फिर आपके सभी मांगे गये प्रमाणपत्र की सत्यापन की जांच किया जाता है

4 – मेरिट लिस्ट के आधार पर चयन (Merit List)

और फिर अंत में Highest Number के आधार पर मेरिट लिस्ट बनाया जाता है जिसका सबसे अधिक नंबर होता है वह रेलवे के जॉब के लिए सेलेक्ट हो जाता है

How to Apply Railway Job Group C and D रेलवे जॉब ग्रुप डी के लिए अप्लाई कैसे कर सकते है?

How to Apply Railway Group D Application Form Online In Hindi Details
रेलवे ग्रुप डी में जॉब के अप्लाई के लिए आपको इंडियन रेलवे के ऑफिसियल Website के Railway Recruitment Cell के जरिये आप Online Apply कर सकते है जिसकी सारी जानकारी आपको वहा दी जाएगी वैसे तो ऑनलाइन फॉर्म अप्लाई (online form apply) के लिए पासपोर्ट साइज़ फोटो (passport size pic), Signature Snap, Qualification Details और payment के लिए डेबिट या क्रेडिट कार्ड का होना जरुरी है इसके अतिरिक्त पेमेंट बैंक चालान (bank chalan) के जरिये भी किया जा सकता है

Railway Group D Exam Paper Pattern details in Hindi रेलवे एग्जाम पेपर पैटर्न

जब हम फॉर्म जॉब के लिए apply करते है तो उसके exam की तैयारी के बारे में जानना सबसे महत्वपूर्ण होता है ग्रुप डी group d के लिए exam paper अधिकतम 100 अंक के निर्धारित होते है जो की एक निश्चित अवधि में पूर्ण करना होता है

railway group D  में exam के लिए समान्य ज्ञान (general Knowledge), अंकगणित योग्यता (mathmathics), सामान्य बुद्धि परिचय (reasoning) और सामान्य विज्ञान (general science) से सम्बन्धित प्रश्न पूछे जाते है जिनके लिए निर्धारित प्रश्न और अंक होते है

ऐसे में सामान्य विज्ञान (Science), भारत का भूगोल (Indian Geography), कृषि (Aggriculture) से सम्बन्धित जानकारी, कंप्यूटर (Computer question) से रिलेटेड प्रश्न, सामान्य अंकगणित और तार्किक प्रश्नों (Reasoning) का गहन अध्ययन करना चाहिए

How to Prepare Railway Group D Exam in Hindi (रेलवे ग्रुप डी की परीक्षा की तैयारी कैसे करे)

चलिए अब हम रेलवे ग्रुप डी की परीक्षा की तैयारी के लिए मेन पॉइंट पर आते है

1 – किसी भी परीक्षा में किस प्रकार के प्रश्न पूछे जाते है इसकी अच्छी जानकारी के लिए हमे उस पोस्ट के लिए ली गयी पिछले सालो के एग्जाम पेपर का अध्ययन करना चाहिए ऐसे में यदि हमे ये पेपर आसानी से नही मिल पाते है तो हम इन्टरनेट के जरिये Online भी सर्च कर सकते है

2 – किसी भी एग्जाम में सामान्य ज्ञान सबसे जरुरी भाग होता है सामान्य ज्ञान एक ऐसा विषय होता है हम चाहे जितना भी पढ़ ले कम ही होता है ऐसे में जरुरी नही की जब एग्जाम की तैयारी करे तभी सामान्य ज्ञान का अध्ययन करे, सामान्य ज्ञान के लेटेस्ट जानकारी के लिए सबसे अधिक उपयुक्त समाचार पत्र और टीवी न्यूज़ चैनल होते है जिनसे हमे नई तरह आने वाली जानकारीयो के बारे में आसानी से पता चलता है

3 – तार्किक प्रश्न यानी Reasoning Question दिखने में तो बहुत ही टेढ़े लगते है लेकिन अगर आप इन्हें एकबार समझ लेते है तो फिर इन्हें हल करने में मजा आने लगता है या यु कहे तार्किक प्रश्नों से हमारे सोचने और कल्पना करने की क्षमता में जबरदस्त बढ़ोतरी होती है

4 – दुनिया में क्या हो रहा है इसके बारे में भी जानना जरुरी होता है जिसके बारे में सामान्य सचेतता के अंतर्गत ऐसे प्रश्न पूछे जाते है

5 – Railway Group D Exam की तैयारी के लिए Model Paper की भी सहायता ले सकते है या ऐसे कहे की अगर आप रेलवे में जॉब एग्जाम की तैयारी कर रहे है तो अगर निर्धारित समय में हमे पेपर के सभी प्रश्न हल करने होते है ऐसे में अगर तैयारी करने के साथ इन मॉडल पेपर के प्रश्नों को दिए समय में हम हल भी करते रहे तो इससे परीक्षा की तैयारी भी अच्छे से होने लगती है

6 – ग्रुप स्टडी एक ऐसा अध्ययन है जिसमे दो चार स्टूडेंट्स आपस में मिलकर बैठकर स्टडी करते है ऐसे में यदि एग्जाम की तैयारी कर रहे है तो हो सकता है कुछ चीजे आपको मालूम हो और कुछ चीजे आपके साथ में तैयारी करने वाले दोस्तों को मालूम हो ऐसे में अहर ग्रुप Discussion के जरिये एग्जाम की तैयारी किया जाय तो आसानी सभी के जानकरी आपस में साँझा होती है जिससे जॉब की परीक्षा की अच्छे से तैयारी भी होती है

7 – कोई भी एग्जाम की तैयारी के लिए उसके एग्जाम पैटर्न को जानना जरुरी होता है ऐसे में जब आप रेलवे जॉब की तैयारी कर रहे है तो फॉर्म भरते समय सभी जानकारी को सही से पढ़ ले और परीक्षा में कैसे प्रश्न पूछे जाने वाले है इसकी भी जानकारी प्राप्त कर ले जैसा की हमने इसके बारे ऊपर भी Exam Paper Pattern के जरिये बताया है

Killer Railway Study Tips in Hindi  रेलवे ग्रुप डी की परीक्षा की तैयारी से महत्वपूर्ण सलाह

जब आप रेलवे ग्रुप डी की परीक्षा की तैयारी करते है तो कुछ इन महत्वपूर्ण बातो को भी अच्छे से जान लेना जरुरी होता है

1 – Railway Group D Vacancy समय समय निकलते रहते है इसके लिए खुद को हमेसा Update रखे

2 – रेलवे ग्रुप डी की परीक्षा के लिए कुछ महत्वपूर्ण तिथिया भी निर्धारित होती है जिन्हें नोट करना आवश्यक होता है जैसे की फॉर्म की आवेदन की प्रारम्भिक तिथि और अंतिम तिथि कब है, रेलवे ग्रुप डी की परीक्षा की तिथि कब है प्रवेश पत्र कब तक आएगा, आपका परीक्षा कब और कहा निर्धारित हुआ है इन सबकी जानकारी रखना बहुत आवश्यक होता है ऐसे में यदि कोई भी तारीख को भूल जाते है तो हो सकता है की हम कोई बड़े अवसर को हाथ आने से चूक सकते है तो इन बातो का हमेसा ख्याल रखे

3 – जब भी फॉर्म अप्लाई करते है तो यह निश्चित कर ले की आपका फॉर्म शत प्रतिशत सही भरा गया हो अन्यथा कोई गलती होने पर एडमिट कार्ड पाने से वंचित हो सकते है जिसके कारण परीक्षा में बैठने का अवसर भी नही मिल पायेगा सो इसके लिए खुद को सचेत रखे

4 – कोई भी कार्य में सफलता या असफलता ही मिलती है इसलिए एकबार में जब रेलवे ग्रुप डी की परीक्षा नहीं निकाल पाते है तो ऐसे में निराश होने के बजाय पिछले अनुभव के आधार पर हमे रेलवे ग्रुप डी की परीक्षा की तैयारी नही छोडनी चाहिए और एकबार फिर से तैयारी करते हुए पहले की तुलना में आप और अच्छा और बेहतर कर सकते है

5 – कोई भी परीक्षा उतना कठिन भी नही होता और ना हो उतना आसान भी होता है सो जब भी आप कोई भी परीक्षा या रेलवे ग्रुप डी की परीक्षा की तैयारी करे तो इसे कभी भी आसान न समझते हुए खूब मन लगाकर अच्छे मन से तैयारी करे तो निश्चित ही सफलता आपके कदम चूमेगी

For Railway Preparation Important Book

आप सभी students के साथ Railway तैयारी करने के लिए कुछ महत्वपूर्ण Book share कर रहे है जो की बहुत सारे coatching संस्थानों द्वारा सुझाया गया है, जिससे आपकी तैयारी और भी बेहतर ढंग से हो सके|

Railway Samanya Adhayan 1046 Sets (2018-2019) Session

Why Practice Paper is Important?

  • जैसा की हमने आप सभी students को ऊपर बतलाया है की किसी भी exam की taiyari करने के लिए उसके practice sets जरूर solve कीजिये जिससे आप सभी को अपनी taiyari में हो रही कमियों का पता लग सके और आप उसमे सुधार कर परीक्षा में सफल हो सकेंगे|
  • ज्यादातर मौके पर हर कोई आपको Sample Papers हल करने की सलाह देता होगा. यह काफी कारगर हो सकता हैं. पिछले कुछ सालों के प्रश्नपत्रों को आप इकठ्ठा कर कई सवालों को जान सकते हैं. उन प्रश्नों को हल करें इससे आपके अंदर विश्वास पैदा होगा. साथ ही Syllabus भी पूरा किया जा सकेगा. क्या पता कई सवाल उनमें से ही आ जाएं.

Railway Bharti Board के लिए सभी students अपनी पूरी तैयारी के साथ कम्पटीशन करते हैं| अधिकतर स्टूडेंट्स कोचिंग इंस्टिट्यूट में admission ले लेते हैं ताकि उनकी preparation बिलकुल केंद्रित हो और उनका focus सिर्फ Railway Bharti में सफलता पाने पर हो| लेकिन काफ़ी students ऐसे भी है जो self preparation करना पसंद करते हैं या किसी कारण वस coatching में admission नहीं ले पातें| ऐसे में ज़रूरी हैं की ऐसे students को अपनी तैयारी का अनुमान हो और वे भी Railway One day exam में सफलता पा सके|

Railway Bharti Board के जितने भी उम्मीदवार हैं चाहे वे कोचिंग से तैयारी करे या खुद से mock Test उन्हें उनकी preparation (तैयारी) में काफ़ी हद तक फायदा करते हैं| पढ़िए और जानिए mock टेस्ट का क्या role (अहमियत) और फायदा हैं Railway recruitment की तैयारी के लिए –

What is mock test क्या हैं?

mock tests स्टूडेंट्स के लिए अपनी तैयारी मज़बूत करने में काफ़ी सहायक होते हैं| mock टेस्ट सभी तरह के study material जैसे कि पिछले साल के प्रशन पत्र, (sample papers) सैंपल पेपर्स, online test series आदि|

क्या Railway Bharti के लिए आप भी कर रहे है दूसरा प्रयास? तो ज़रूर जानें ये 8 सबसे महत्वपूर्ण टिप्स

जानिए Railway Recruitment में सफलता पाने के लिए mock Test कितने जरुरी हैं–1. प्रशन पत्र की सही जानकारी – students को Railway Bharti की तैयारी के लिए paper pattern का होना बहुत आवश्यक हैं| इससे students को प्रशन, मार्क्स, हर सेक्शन (section) में कितनें प्रशन हैं और मार्किंग स्कीम (marking scheem) क्या होती हैं|

2. Performance Evaluation (परफॉरमेंस इवैल्यूएशन) – mock test जैसे कि प्रशन पत्र, sample papers और online test series की मदद से स्टूडेंट्स अपनी तैयारी का पता लगा सकते है इससे उन्हें अनुमान हो जाता हैं की उन्हें railway recruitment में सफलता पाने के लिए और कितनी तैयारी करनी होगी|

3. Speed and Accuracy (स्पीड और एक्यूरेसी) – स्टूडेंट्स mock paper हल करता है तो इसमे उसकी Speed and accuracy में improvement आयेगी जो की परीक्षा के टाइम उनका बहुत सारा time बचाएगी तो students mock टेस्ट पेपर्स पप्रैक्टिस कर सकते हैं जिससें उनके अपने मोड में स्पीड और एक्यूरेसी बढ़ेगी|

4. मोटिवेशन और आत्मविश्वास – जब स्टूडेंट्स mock test solve करते हैं तो उन्हें अपनी preparation (तैयारी) का अनुमान होता हैं जिससे उन्हें और अच्छे से तैयारी करने का motivation मिलता हैं| जब students लगातार mock tests लेने के बाद performance evaluation (परफॉरमेंस इवैल्यूएशन) करते हैं तो उन्हें अपनी improvement पता लगती हैं और उनका आत्मविश्वास और ढृढ़ हो जाता हैं|

5. Strenth and Weeknes (स्ट्रेंथ और वीकनेस) – mock टेस्ट करने से स्टूडेंट्स को पता लगता हैं कि उन्हें किस विषय में कितनी और तैयारी करनी चाहिए| उन्हें  अपने week point (कमजोर विषयों) और strong point पर उसी अनुसार ध्यान देने में मदद मलती हैं|

6. Exam से घबराहट व चिंता – अक्सर देखा गया हैं कि स्टूडेंट्स अपनी पूरी तैयारी से exam देने जाते हैं लेकिन वे घबराहट की वज़ह से अपना exam ख़राब कर देते हैं और उनकें marks नहीं आ पाते| यह उन स्टूडेंट्स के साथ होता हैं जो, “असफलता और कम नंबर आने से selection नहीं हो पाएगा” ऐसा सोचकर चिंतित हो जाते हैं और उनमे फ़ेल हो जाने का डर बैठ जाता हैं| अगर ऐसे स्टूडेंट्स mock tests के साथ preparation करेंगे तो उनका test का भय निकल जाएगा साथ ही साथ अच्छा perform करने से उनका मनोबल बढ़ेगा और वे test देने की तैयारी और अच्छे से करेंगे|

7. Competition में आगे– जो सभी students mock टेस्ट नहीं practice करते वे अक्सर exam में काफ़ी दिक्कतों का सामना करते हैं जैसे कि उन्हें exam के बारे में ज़्यादा जानकारी नहीं होती और वे exam देते समय बेकार की परेशानी में अपना कीमती समय गवा देते हैं| जबकि जो स्टूडेंट्स काफ़ी मात्रा में mock test से तैयारी करते है उनकी paper solve करने की (speed impoved) स्पीड बढती हैं, वे कम से कम समय में ज़्यादा प्रशन solve करना सीख जाते हैं जिससे वे अपना पूरा paper दिए गए समय में कर लेते हैं, और साथ ही उन्हें हर विषय से प्रशन सोल्व करने की जानकारी होती हैं इसलिए उनके सभी उत्तर सही होने की संभावना बढ़ जाती हैं|

conclusion: स्टूडेंट्स के लिए आवश्यक हैं कि वे mock tests जितने ज़्यादा हो सके practice करे इससे उन्हें स्पीड और एक्यूरेसी (speed and accuracy), (Time management) टाइम मैनेजमेंट, (Self Confidance) सेल्फ कॉन्फिडेंस और अपनी (Performance) परफॉरमेंस का अनुमान हो जाएगा|

नीचे आप सभी students की जरूरत को देखते हुए रेलवे mock test series Book share की जा रही है जो की आपके घर में delever हो जाएगी

Students Review on Railway Samanya Adhayan 1046 Sets (2018-2019) Session

नीचे आप सभी students के लिए इस Book से सम्बंधित जो review आये है वो आप सभी के साथ share कर रहे है

customer review rating

customer review rating

customer comment review1
customer comment review2

customer comment review2

customer comment review3

customer comment review3

customer comment review4

customer comment review4

customer comment review5

customer comment review5

इस Railway Taiyari Book को लेन के लिए नीचे दिए गये button में click करे-

Free Study Material for Railway Preparation

नीचे आप सभी को कुछ महत्वपूर्ण बुक pdf मिलेगी जो की रेलवे की तैयारी करने में आप सभी को बहुत ही ज्यादा helpful होगी|

Railway Previous Year Question Paper PDF

रेलवे exam की तैयारी में Previous year paper का अपना अलग ही महत्व है इसमें आपको विगत वर्षो में हुए railway exam देखने को मिलता है जिससे आपको exam का स्तर और syllabus की सही जानकारी होती है साथ ही अपनी तैयारी का भी सही अनुभव हो जाता है|

Railway Taiyari Tips and Tricks

किसी भी प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी के लिए आपको सबसे पहले उस परीक्षा का पाठ्यक्रम देखना चाहिए। उम्मीदवारों को अपनी तैयारी करते समय पाठ्यक्रम में वर्णित सभी टॉपिक-सब टॉपिक को पहले कवर कर लेना चाहिए। और इस पर अपनी बुनियादी समझ विकसित कर लेनी चाहिए। फिर सभी टॉपिक और सब टॉपिक पर अपनी समझ को जांचने के लिए मॉक टेस्ट या ऑल इंडिया टेस्ट को एटेम्पट कर ऑल इंडिया रैंक से अपना स्व-विश्लेषण कर लेना चाहिए। जिससे आप जान सकें की आपका तैयारी स्तर क्या है और अभी आपको कितने अध्ययन की जरुरत है।

नीचे परीक्षा प्रश्न पत्र में पूछे जाने वाले सेक्शनवार से कुछ महत्वपूर्ण सुझाव और महत्वपूर्ण टॉपिक दिए गए हैं। आपको इन विषयों पर अधिक अभ्यास करने पर अपना ध्यान केंद्रित करने की आवश्यकता है।

1. मात्रात्मक योग्यता

• मात्रात्मक सेक्शन पूरी तरह से अभ्यास पर आधारित है।
• अवधारणाओं को जानें और प्रत्येक टॉपिक से कम से कम 100 प्रश्नों का अभ्यास करें।
• सबसे पहले, प्रश्न को हल करने के लिए मूल प्रक्रिया को समझने का प्रयास करें, फिर आप शोर्टट्रिक्स का अभ्यास करें।
• यदि आप अधिक अभ्यास करना चाहते हैं तो आप आरएस अग्रवाल पुस्तक की सहायता ले सकते हैं।
• साधारण से बात पर अत्यंत महत्त्वपूर्ण कि आप प्रश्नों को सिर्फ समझ कर न छोड़े। बल्कि समझने के बाद अभ्यास अवश्य करें।
महत्वपूर्ण विषय हैं:
बॉडमास | प्रतिशत | अनुपात और अनुपात | समय और कार्य | प्रतिशत|चक्रवृद्धि ब्याज और साधारण ब्याज | बीजगणित | ज्यामिति | त्रिकोणमिति।

2. रीजनिंग क्षमता (Reasoning Aptitute)

• रीजनिंग सेक्शन आसान होगा लेकिन अन्य वर्गों की तुलना में कम प्रश्न होंगे।
• आपका लक्ष्य इस खंड से सभी प्रश्नों का हल करने का होना चाहिए।
• बाजार में विभिन्न किताबें उपलब्ध हैं। आप रीजनिंग सेक्शन के लिए आरएस अग्रवाल की पुस्तक की मदद ले सकते हैं।महत्वपूर्ण विषय हैं:
एनालॉजी | वर्गीकरण | रक्त संबंध | दिशा बोध | विश्लेषणात्मक रीजनिंग | न्याय कथन | निष्कर्ष और निर्णय और कथन।

3. सामान्य विज्ञान (General Science)

• विज्ञान सेक्शन के लिए कक्षा 9 और 10 के एनसीईआरटी की पुस्तकों का अध्ययन करें।
• अपने स्वयं के नोट्स बनाएं और नोट्स को एक या दो लाइन प्रारूप में बनाने का प्रयास करें।
• महत्वपूर्ण बिंदुओं को हाइलाइट करें।
• नियमित आधार पर नोट्स का रिविजन करें। विषय में निपुणता प्राप्त करने के क्विज़ और मॉक टेस्ट पेपर से अभ्यास करें।
महत्वपूर्ण विषय हैं:
जीव वर्गीकरण | जीवन प्रक्रियाएं | पारिस्थितिकी | ऊर्जा के स्रोत | प्रजनन | अम्ल, लवण और क्षार | धातु और अधातु | रासायनिक क्रियाएं | इकाई और मापन | ताप | बल | उर्जा और चुंबकत्व | आकर्षण-बल

4. समसामयिक सामान्य जागरूकता (Samsamayik General Awareness)

• यह अनुभाग सबसे महत्वपूर्ण वर्गों में से एक है क्योंकि यदि हम उचित योजना का पालन करते हैं तो इस विषय में अंक स्कोर करना थोडा आसान है। प्रतिदिन करेंट अफेयर वीडियो देखें, पीडीएफ और समाचार पत्र पढ़ें एवं महत्वपूर्ण बिंदुओं को नोट करें और नियमित आधार पर उनका रिविजन करें।
• इस खंड में अच्छा प्रयास करने के लिए क्विज़ और मॉक टेस्ट से अधिकतम अभ्यास करें।

Time Management (समय का प्रबंधन कैसे करें?)

समय प्रबंधन किसी भी परीक्षा या कार्य में सफलता प्राप्त करने की कुंजी है। यदि कोई उम्मीदवार सफलतापूर्वक समय का प्रबंधन कर सकता है, तो उसे सफलता पाने से कोई नही रोक नहीं सकता है। इसलिए, तैयारी और उनके पाठ्यक्रम के अनुसार हर किसी को अपने समय का प्रबंधन करना होगा जिसमें आपको प्रत्येक विषय के लिए उचित व निर्धारित समय देना चाहिये। यह भी ध्यान रहे कि समय प्रबंधन की मदद से आप परीक्षा में अधिक से अधिक प्रश्नों को हल कर सकेंगे जो कि इस कठिन प्रतियोगिता के लिये अत्यंत महत्वपूर्ण है।

पढ़ाई पर फोकस कैसे करें? (Focus on Study)

अभ्यर्थियों को यह सलाह दी जाती है कि वे पूरे तैयारी में विषयों की अवधारणाओं को समझने पर ध्यान दें। यह आपको समय की एक लंबी अवधि के लिए अवधारणाओं को याद करने में मदद करेगा। अवधारणाओं की स्पष्ट समझ के साथ, उम्मीदवार आसानी से उन अवधारणाओं से संबंधित प्रश्नों को आसानी से संभाल सकते हैं। आप जो पढ़ रहे हैं उससे जुड़ें। यदि पढ़ते समय परेशानी आती है तो उसपर विशेषज्ञों के साथ चर्चा करें।

मॉडल एवं विगत वर्ष के प्रश्न पत्र का अभ्यास करें (Mock and Previous year Paper Practice)

इस प्रकार प्रश्नपत्रों से अभयास करने से आप परीक्षा के पैटर्न को आसानी से समझ पायेंगे और आप विभिन्न प्रकार के सवालों और उन्हें सुलझाने की विधि सीख पाते हैं। यह आपको गति और सटीकता प्राप्त करने में भी सहायता करता है। इस तरह के परीक्षण करने के लिए अभ्यर्थी आनलाईन टेस्ट सीरीज का उपयोग कर सकते हैं।

उम्मीदवारों को पिछले साल के प्रश्नों को हल करने की सलाह दी जाती है क्योंकि ऐसा करने से आप परीक्षा में पूछे गए सवालों के स्तर को जान सकते हैं और कभी-कभी दोहराए गए प्रश्नों के बारे में भी पता चलता है और इससे उन्हें हल करने का समय कम हो जाता है।

Railway Prepration Material